बैंक ऑफ बड़ौदा लोन की जानकारी | Bank Of Baroda Loan Kaise Le

बैंक हेलो दोस्तों आज में आपको बैंक ऑफ बड़ौदा लोन की जानकारी बताऊंगा क्या करना होगा, कोनसे डोक्युमेंट चाहिए, सिबिल के बारेमे जानेंगे ।

बैंक ऑफ बड़ौदा से होम लोन लेने के लिए आपका सिबिल खराब नहीं होना चाहिए अगर आपने पहले कहीं लोन लिया है । लेकिन आपने समय पर लोन की राशि का भुगतान नहीं किया है और अगर आप किसी के लोन में गारंटर थे और उसने लोन का पैसा नहीं दिया। तो आपका सिबिल खराब होने पर बैंक ऑफ बड़ौदा बैंक आपको होम लोन नहीं देगा ।

उसके लिए कोई आपको फाइनेंस लोन दे सकता है, यदि आपका सिविल बहुत खराब है, तो इसे बेहतर बनाने के लिए आपको अपने किसी भी लोन भुगतान का समयसर करना चाहिए, और कोई भी छोटा लोन लेना चाहिए और समय पर उसका पैसा चुकाना चाहिए। इससे आपका सिबिल धीरे-धीरे सुधरेगा और फिर आपको होम लोन मिल सकता है ।

बैंक ऑफ बरोड़ा बैंक अगर आप कोई अच्छी जॉब या कोई बिजनेस करते हो तो होम लोन देगा लेकिन उसके लिए आपके पास जॉब या बिजनेस जो भी करते हो उसके डॉक्यूमेंट होनी चाहिए और आप जो जॉब करते हो उस जॉब का पैसा बैंक में आना चाहिए और बैंक ऑफ बरोड़ा गांव में होम लोन नहीं देती है ।

अगर आप शहर में मकान ले रहे हो और उस मकान के सब कागज कंप्लीट है तो ही बैंक ऑफ बरोड़ा होम लोन देगा और बैंक ऑफ बरोड़ा आपको होम लोन देने के लिए आप की प्रॉपर्टी को मॉर्गेज करवाएगा ।

बैंक ऑफ बड़ौदा लोन की जानकारी | Bank Of Baroda Loan Kaise Le

होम लोन आपको अगर आप कोई मकान खरीद रहे हो तो ही मिलेगी वरना होम लोन नहीं मिलती अगर आपके पास कोई पुराना मकान है आपके नाम का और उस पर आप होम लोन लेने के लिए जाएंगे तो आपको होम लोन नहीं मिलेगा ।

होम लोन में दो व्यक्ति का होना आवश्यक है जिसकी इनकम लेने वाले हैं उसको बोलते हैं एप्लीकेंट और उसके साथ उसकी वाइफ या उसके माता-पिता उसको बोलते हैं को एप्लीकेंट अगर आपकी फैमिली में कोई नहीं है तो आप को एप्लीकेंट की जगह गेरेटर को ले सकते हैं ।

बैंक ऑफ बरोड़ा में होम लोन के लिए आपके जरूरी डॉक्यूमेंट जो जॉब करते हैं उनके लिए

बैंक ऑफ बड़ौदा लोन की जानकारी Bank Of Baroda Loan Kaise Le

 एप्लीकेंट

  1. पान कार्ड
  2. आधार कार्ड
  3. पासपोर्ट साइज फोटो
  4. चेक सैलरी अकाउंट का
  5. लास्ट 3 महीने की सैलरी स्लिप
  6. 2 वर्ष के फॉर्म नंबर 16
  7. 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट सैलरी अकाउंट का

 को एप्लीकेंट

  1. पान कार्ड
  2. आधार कार्ड
  3. पासपोर्ट साइज फोटो

बैंक ऑफ बरोड़ा में होम लोन के लिए आपके जरूरी डॉक्यूमेंट जो बिजनेस करते हैं उनके लिए

एप्लीकेंट

  1. पान कार्ड
  2. आधार कार्ड
  3. पासपोर्ट साइज फोटो
  4. चेक करंट अकाउंट का
  5. गुमास्ताधारा
  6. 3 साल के आईटी रिटर्न
  7. जीएसटी प्रमाण पत्र
  8. 1 साल का बैंक स्टेटमेंट करंट अकाउंट का

 को एप्लीकेंट

  1. पान कार्ड
  2. आधार कार्ड
  3. पासपोर्ट साइज फोटो

ऊपर बताए गए डॉक्यूमेंट से आप बैंक ऑफ बरोड़ा बैंक मैं जाकर होम लोन की अप्लाई कर सकते हैं

बैंक ऑफ बरोड़ा से होम लोन लेने के लिए आपको आपके नजदीक में जो कोई बैंक ऑफ बरोड़ा है तो वहां जाकर मिले और साथ में आपके मकान के ओर आपके डॉक्यूमेंट लेकर जाए ताकि आप उनको आपके डॉक्यूमेंट दिखा सके और फिर वह आपको बताएंगे कि आपकी होम लोन होगी या नहीं और अगर आपकी लोन हो सकती है ।

उसके बाद आपको और आपकी वाइफ को बैंक में जाना पड़ेगा और वहां जाकर आपको बैंक ऑफ बरोड़ा के होम लोन के फॉर्म में साइन करनी पड़ेगी और बैंक वाला फॉर्म में आपकी सब डिटेल लेकर भरेगा और उस डिटेल लेकर भरने के बाद वह फॉर्म बैंक ऑफ बरोड़ा में जमा करेंगे फिर उसके बाद होम लोन की प्रोसेस स्टार्ट होती है ।

होम लोन की प्रोसेस स्टार्ट होने के बाद आप जहां पर जॉब करते हो या बिजनेस करते हो वहां पर वेरिफिकेशन होने के बाद आपकी लोन सेनसन होगी उसके बाद आपको सेनसन लेटर देंगे जिससे आपकी लोन कितनी पास हुई है और कितना ब्याज दर है उसके बारे में आपको पता चलता है ।

सेनसन लेटर मिलने के बाद आपको आपने जहां पर मकान लिया है उस मकान के डॉक्यूमेंट बैंक में लीगल और टेक्निकल के लिए देने पड़ेगे ।

लीगल और टेक्निकल के लिए मकान के डॉक्यूमेंट

  1. ड्राफ सेल डीड
  2. कंस्ट्रक्शन परमीशन( बांधकाम परवानगी)
  3. N.A. आर्डर
  4. बिल्डिंग प्लान
  5. लेआउट प्लान
  6. पहले की सेल डीड जितनी है वह सब
  7. 7,12 के उतारा , हक पत्रक

इन सब डॉक्यूमेंट की 2 कॉपी देनी पड़ती है लीगल और टेक्निकल के लिए

मकान के डॉक्यूमेंट के बारे में जानकारी

  1. 1) ड्राफ सेल डीड – आप जो मकान खरीदने वाले हैं उस मकान का जो पहले मालिक है वह और आप दोनों मिलकर मकान का जो दस्तावेज बनवाने वाले हो उसकी कॉपी को ड्राफ सेल डीड कहते हैं ।
  2. कंस्ट्रक्शन परमीशन( बांधकाम परवानगी) – आप जो मकान बनाने वाले हो उस मकान को बनाने की जो परवानगी देते हैं उस लेटर को कंस्ट्रक्शन परमिशन कहते हैं ।
  3. N.A. आर्डर – जो जमीन खेती लायक नहीं है और बिन खेती लायक होने का जिला पंचायत से जो लेटर पर देते हैं उसे N.A. ऑर्डर कहते हैं ।
  4. बिल्डिंग प्लान – हमारा मकान हम कैसा बनाने वाले है किस तरह किचन है किस तरह बेडरूम है वह सब जिस नक्शे में दिखाया जाता है उसे बिल्डिंग प्लान कहते हैं ।
  5. लेआउट प्लान – हमारा मकान जिस सोसाइटी में है वह सोसाइटी के सारे मकान का नक्शा जिसमें नंबर वाइज मकान होते हैं उसे बोलते हैं लेआउट प्लान ।
  6. पहले की सेल डीड जितनी है वह सब – आप जो मकान खरीद रहे हो उस मकान के मालिक ने पहले जिससे पास से खरीदा हो वह सब दस्तावेज उसे पहले की सेल डीड बोलते हैं ।
  7. 7,12 के उतारा , हक पत्रक – आप जो मकान खरीद रहे हो उस मकान के जमीन के जो रिकॉर्ड हम सरकारी कचहरी से निकल वातें हैं उसे 7,12 के उतारा , हक पत्रक कहते हैं ।

लीगल के बारे में जानकारी

  • लीगल यानी कि आपके मकान के जो डॉक्यूमेंट है वह सही है या नहीं ।
  • लीगल में वकील आपके मकान की सारी जानकारी निकलता है किसके पास से मकान बनाने के लिए जमीन ली गई है किसके नाम का N.A. आर्डर है ।
  • और अभी तक आपके मकान के कितने दस्तावेज हुए हैं वह सब डिटेल निकालकर रिपोर्ट बनाकर बैंक में भेजता है उस रिपोर्ट को लीगल कहते है ।

टेक्निकल के बारे में जानकारी

टेक्निकल यानी कि आपका मकान जिस जगह पर है वह जगह सही है या नहीं ।

टेक्निकल में बैंक में जो वैल्यूएशन वाला होता है वह आपके मकान पर आकर आपने जो डॉक्यूमेंट बिल्डिंग प्लान और लेआउट प्लान दिए है उसके हिसाब से चेक करेगा और बैंक को रिपोर्ट बनाकर भेजता है ।

वैल्यूएशन वाला जो बैंक को रिपोर्ट भेजता है उसे टेक्निकल रिपोर्ट कहते हैं ।

और भी पढ़े: बैंक में खाता कैसे खोले

लीगल और टेक्निकल हो जाने के बाद बैंक में आपका एग्रीमेंट होगा एग्रीमेंट में बैंक के जो फॉर्मेट होते हैं उस में साइन करनी पड़ती है और आप जो मकान खरीद रहे हो उस मकान का जो मालिक है उसका पान कार्ड, आधार कार्ड और कैंसल चेक देना पड़ता है ताकि आपका लोन का जो पैसा है वह मकान मालिक के नाम से निकल सके और मकान के जो पुराने डॉक्यूमेंट होते हैं वह सब बैंक में जमा करने पड़ते हैं यह सब बैंक में जमा करने के बाद एग्रीमेंट की प्रोसेस पूरी होती है ।

फिर एग्रीमेंट बैंक में जमा करने के बाद बैंक वाले आपकी जो लोन होती है उसके चेक का जेरोक्स देते हैं उस चेक का नंबर आपको आपके मकान के दस्तावेज में डालकर दस्तावेज करवाना पड़ता है और फिर वह दस्तावेज बैंक में जमा करना पड़ता है ।

दस्तावेज जमा करने के बाद बैंक में से आपको मॉर्गेज डीड का फॉर्मेट देंगे उस फॉर्मेट को लेकर आपको आपके मकान का मॉर्गेज करवाना पड़ता है फिर वह मॉर्गेज डीड लेकर आपको बैंक में जमा करनी पड़ती है ।

उस मॉर्गेज डीड को आप बैंक में जमा करने के बाद बैंक में से आपकी लोन का चेक दे देते हैं और उसके बाद आपकी होम लोन की प्रोसेस पूरी हो जाती है और आप को लोन मिल जाती है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!